Biography

मधुबाला का जीवन परिचय : Madhubala biography in hindi

Madhubala biography in hindi
Written by knowledgehindime
मधुबाला का जीवन परिचय:  Madhubala biography in hindi : मधुबाला जो भारतीय सिनेमा की एक आइकन हैं, जिन्हें व्यापक रूप से “बॉलीवुड की मर्लिन मुनरो” के रूप में भी जाना जाता है। बॉम्बे की मलिन बस्तियों में पली-बढ़ी, उन्होंने एक बाल कलाकार के रूप में अपने परिवार का समर्थन किया और जल्द ही एक अभिनेत्री बन गईं जो अपनी लालित्य और काफी अभिनय क्षमताओं के लिए जानी जाती है। Madhubala biography in hindi

मधुबाला का जीवन परिचय / Madhubala biography in hindi

14 फरवरी 1933 को दिल्ली में एक मुश्लिम परिवार में जन्मी, मुमताज जेहान बेगम देहलवी का पालन-पोषण बॉम्बे टॉकीज फिल्म स्टूडियो के पास स्थित एक कस्बे में हुआ था। वह 9 साल की उम्र में अपनी पहली फिल्म में दिखाई दी, जिसमे उनका नाम बेबी मुमताज़ के रूप में प्रस्तुत किया गया। उनकी पहली फिल्म बसंत थी जो 1947 में रिलीस हुई थी.

1947 में उन्होंने 14 साल की उम्र में मधुबाला नाम लेकर नील कमल में मुख्य भूमिका निभाई। यह उनकी पहली फिल्म थी जिसमे उन्होंने मुख्य किरदार के रूप में अभिनय किया था. इसके कुछ वर्षों के बाद उनकी फिल्म महल आई जिसे बाम्बे टॉकीज के द्वारा प्रस्तुत किया गया था. इस फिल्म के गीत आएगा आने वाला लोगो के द्वारा बहुत अधिक पसंद किया गया था. जिससे लता मंगेशकर के द्वारा गया गया था और यही से उन्हें फ़िल्मी जगत में अच्छी शुरूआत हुई.

अपने परिवार का पालन पोषण करने वाली वह एक मात्र थी और अपने माता-पिता और चार बहनों का समर्थन करने के लिए अथक प्रयास किया। मधुबाला एक प्रतिभाशाली अभिनेत्री थीं, उन्हें 1951 के रोमांस तराना में उनके कोस्टार दिलीप कुमार से प्यार हो गया, लेकिन उनके पिता, जिन्होंने उनके करियर को संभाला, ने हस्तक्षेप किया। जिस कारन उनकी शादी नहीं हो पाई.

इसके बाद मधुबाला और किशोर कुमार का विवाह हुआ लेकिन किशोर कुमार पहले से शादीशुदा थे और उनका तलाक भी हो चूका था और उनका परिवार इस शादी के टूटने की वजह मधुबाला को मानते थे जिस कारन उन्होंने मधुबाला को अपनी बहु स्वीकार नहीं किया. मधुबाला और किशोर कुमार के द्वारा हिन्दू रीती रिवाज के बाद भी उनके परिवार के द्वारा माधुबाला को बहु नहीं माना गया.

महाकाव्य ऐतिहासिक नाटक मुगल-ए-आज़म में मधुबाला प्रमुख भूमिका में थी जो निर्विवाद और अविस्मरणीय फिल्म बॉलीवुड के इतिहास में सबसे लोकप्रिय और महंगी फिल्मों में से एक थी। इस फिल्म में वह अनारकली की भूमिका में थी जो उनके फ़िल्मी करियर का सबसे महत्वपूर्ण भूमिका रही.

मधुबाला ह्रदय रोग से पीड़ित थी, जिस कारण वह मृत्यु से पहले 1 साल तक बिस्तर पर बीमार रही और स्वास्थ्य में लगातार गिरावट होने की वजह से उनकी मृत्यु 36 वर्ष की उम्र में 23 फरवरी 1969 को बम्बई में हुई. उनकी मृत्यु के बाद 1971 को उनकी अंतिम फिल्म जलवा को प्रस्तुत किया गया.

एक दुखद और छोटे करियर के दौरान 70 से अधिक फिल्मों में दिखाई देने वाली मधुबाला जो आज 86 साल की हो गईं को थिएटर आर्ट्स पत्रिका द्वारा 1952 में “द बिगेस्ट स्टार इन द वर्ल्ड” कहा गया। 2008 में वह भारत में एक स्मारक डाक टिकट पर दिखाई दीं, जहाँ उन्हें सिल्वर स्क्रीन की सबसे बड़ी जोड़ी के रूप में याद किया जाता है। गूगल के द्वारा भी उनके 86वें जन्मदिन पर उन्हें सम्मानित करने के लिए उन्हें गूगल डूडल पर लगाया गया है.

Leave a Comment