Happy Deepawali

Saturday, 10 November 2018

एलिसा लियोनिडा ज़ैमफायरेस्कू दुनिया की पहली महिला इंजीनियर

इलिसा लिओनिडा ज़ैमफायरेस्कू दुनिया की पहली महिला इंजीनियर

एलिसा लियोनिडा ज़ैमफायरेस्कू Elisa Leonida Zamfirescu

एलिसा लियोनिडा ज़ैमफायरेस्कू का जन्म 10 नवंबर, 1887 को हुआ था।

पढाई में अच्छी होने के वावजूद भी उन्हें इंजिनियरिंग कॉलेज में दाखिला नहीं मिला था.

वह दुनिया की पहली महिला इंजीनियर थी।

जमफिरेसको जनरल असोसिएशन ऑफ रोमानियन इंजिनियर्स की पहली महिला सदस्य थीं. जिअलॉजिकल इंस्टिट्यूट ऑफ रोमानिया के कई प्रयोगशालाओं का नेतृत्व किया।

एलिसा लियोनिडा ज़ैमफायरेस्कू ने रोमानिया के प्राकृतिक संसाधनों का अध्ययन किया.

जब उन्होंने School of bridges and roads में पढाई के लिए आवेदन किया तो विज्ञान केवल पुरूषों के लिए है इस कारण इनके साथ भेदभाव किया गया था और इनका आवेदन निरस्त किया गया.

एलिसा लियोनिडा ज़ैमफायरेस्कू  ने रॉयल टेक्निकल अकैडमी जर्मनी से आवेदन किया और उनके आवेदन को मंजूर कर लिया गया था. यहाँ पर इनको भेदभाव का सामना करना पड़ा। एक बार संस्थान के प्रमुख ने उनसे कहा, 'बेहतर होता कि आप चर्च, बच्चे और रसोई पर फोकस करतीं।' 

1912 में 3 साल का इंजीनियरिंग में स्नातक पूरा किया और पहली महिला इंजिनियर बनी।

ग्रैजुएशन के बाद उन्होंने बुचारेस्ट स्थित जिअलॉजिकल इंस्टिट्यूट जॉइन किया

पहले विश्व युद्ध के दौरान उनकी मुलाकात कॉन्सटैंटिन जमिफरसको से हुई बाद में दोनों ने शादी कर ली और उनको दो बेटियां को जन्म दिया।

एलिसा लियोनिडा ज़ैमफायरेस्कू 
पीटर मॉस स्कूल ऑफ गर्ल्स के साथ-साथ स्कूल ऑफ इलेक्ट्रिशंस और मकैनिक्स भी पढ़ाई।

No comments:

Post a Comment