' जम्मू कश्मीर, धारा 370 क्या है ( What Is Article 370 ) धारा 370 को कैसे हटाया जा सकता है - Knowledge Hindi Me - Make Your Knowledge Better

Sunday, 22 July 2018

जम्मू कश्मीर, धारा 370 क्या है ( What Is Article 370 ) धारा 370 को कैसे हटाया जा सकता है


इस Ariticle में आपको जम्मू कश्मीर धारा 370 क्या है ( What Is Article 370 ) धारा 370 को कैसे हटाया जा सकता है धारा 370 को हटाने के उपाय, यह लागु क्यों कैसे हुआ और आखिर धारा 370 में ऐंसा क्या है जो इसे हटाये जाने के लिए बहस होती रहती है की  जानकारी दे जाने वाली है.

जम्मू कश्मीर में लागु भारतीय सविधान का Article (अनुछेद) (धारा) 370 एक मात्र ऐंसी धारा है जो आपको किसी दुसरे देश के सविधान में नहीं मिलेगी.
जम्मू कश्मीर धारा 370 क्या है धारा 370 को कैसे हटाया जा सकता है

वर्तमान समय में भारतीय सविधान में अनुछेद की संख्या 449 है लेकिन जब सविधान का निर्माण हुआ था तो इसमें मूल रूप से 395 अनुछेद थे और इन्ही अनुछेद में अनुछेद (धारा) 370 जम्मू कश्मीर पर लागु की गयी. जो इसे एक विशेष राज्य का दर्जा देती है. और इस कारण यहाँ पर भारत के अन्य राज्यों के मुकाबले अलग नियम लागु हो जाते है.


धारा 370 क्या है ( what is article 370 )

संविधान निर्माताओं ने भारत की अखंडता को रखने तथा आपात स्थितियों  में विवश होकर भारतीय संविधान में Article 370 का प्रवधान किया था और इसे अस्थायी ही रखा था, ताकि अनुकूल परिस्थितियौं में इस अनुच्छेद में संशोधन किया जा सके या इसे समाप्त किया जा सके परन्तु जम्मू-कश्मीर में व्याप्त आतंकवाद, अलगाववाद, गरीबी, बेकारी आदि समस्याओं के कारण अनुच्छेद 370 भारतीय राजनीतिज्ञों के बीच वाद-विवाद का एक प्रमुख मुद्दा बन गया.

जम्मू-कश्मीर(Jammu-Kashmir) में सविंधान की धारा ( Article ) 370 लागु है जिस कारण जम्मू कश्मीर को एक विशेष राज्य का दर्जा मिलता है और इस राज्य को कुछ विशेष अधिकार मिल जाते है. जम्मू कश्मीर का अपना संविधान है, जो 26 नवम्बर 1957 को लागु हुआ था जिस कारण यहाँ संघीय संविधान और जम्मू-कश्मीर का संविधान दोनों एक साथ लागू है.

जम्मू कश्मीर धारा 370 के कारण यहाँ लागु होता है यह सब -

  • धारा 370 की कारण जम्मू कश्मीर में यहाँ के नागरिक के आलावा भारत का कोई भी नागरिक यहाँ पर जमींन नहीं खरीद सकता है.
  • यदि जम्मू कश्मीर की कोई लड़की भारत के अन्य राज्य के किसी व्यक्ति के साथ शादी करती है तो उसकी जम्मू कश्मीर की नागरिकता समाप्त हो जाती है लेकिन यदि वह पाकिस्तानी के साथ शादी करती है तो उसे भी जम्मू कश्मीर की नागरिकता मिल जाती है.
  • जम्मू कश्मीर विधान सभा का कार्यकाल 6 वर्ष का होता है जबकि भारत के अन्य राज्यों में विधान सभा का कार्यकाल 5 वर्ष का होता है.
  • जम्मू कश्मीर में भारतीय कानून लागु नहीं होते है लेकिन यहाँ केद्र सरकार रक्षा, विदेश निति, वित् और संचार के मामलों में दखल दे सकती है.

  • Center Government जम्मू-कश्मीर की सीमाओं तथा नाम, उसकी इच्छा के बिना परिवर्तन नहीं कर सकती है.
  • नागरिकता के नियम यहाँ भी लागु हैं, लेकिन यहाँ की सरकार को समय-समय पर स्थायी निवासी की व्याख्या करनी होगी.
  • मौलिक अधिकार यहाँ भी लागू होते है लेकिन प्रतिबंधित रूप में. 
  • राष्ट्रीय आपात स्थिति यहाँ लागू हो सकती है, लेकिन यह जम्मू-कश्मीर सरकार की सहमती पर आधारित होगी.
  • जम्मू-कश्मीर राज्य के संविधान में संशोधन का अधिकार, केवल वहां के विधानमंडल को है, केंद्र सरकार को नहीं.
  • यहाँ के नागरिक के पास दो नागरिकता होती है.
  • जम्मू कश्मीर का अपना अलग राष्ट्रध्वज है.
  • यदि यहाँ कोई भारतीय राष्ट्रध्वज और राष्ट्रीय प्रतिको का उपमान करता है तो इसे अपराध नहीं माना जाता है.
  • भारतीय उच्च न्यायलय के दिए गए आदेश यहाँ लागु नहीं होते है.  

जम्मू कश्मीर धारा 370 को हटाने के उपाय

  • यदि जम्मू-कश्मीर की संविधान सभा अस्तित्व में नहीं है तो राष्ट्रपति स्वयं अनुच्छेद 370 को समाप्त करने की  घोषणा कर सकता है. 
  • भारतीय जनता पार्टी जम्मू कश्मीर अनुच्छेद 370 को समाप्त करने के पक्ष में है, जबकि अन्य कुछ दल अनुच्छेद 370 को बनाये रखना चाहते हैं 
  • राजनितिक दलों के आपसी मतभेदों के कारण ही सरकार ने अनुच्छेद 370 को अब स्थाई कर दिया है.
  • अनुच्छेद 370 के खंड 3 में अनुछेद 370 को समाप्त करने की विधि का उल्लेख किया गया है 

जम्मू कश्मीर धारा 370 हट जाने पर क्या होगा

  • अनुच्छेद 370 ले समाप्त हो जाने से जम्मू-कश्मीर(Jammu-Kashmir) राज्य की विशेष स्थिति समाप्त हो जाएगी तथा भारत के अन्य राज्यों के समकक्ष आ जाएगा.
  • यहाँ पर भारतीय सरकार का पूरा कण्ट्रोल रहेगा.
  • जम्मू कश्मीर में बहुत से लोग दूसरी जगह से आये है जिनमे आधिकाश हिन्दू है जिनके पास कोई नागरिकता नहीं है जिसका कारण धारा 370 है क्योंकि इसमें इस्थाई नागरिक उसे बनाया गया है जो 14 मई 1954 को यहाँ का नागरिक रहा हो या इससे पहले 10 साल यहाँ रहा हो लेकिन धारा 370 हट जाने के बाद इन लोगो को भी भारतीय नागरिक मिलने की उम्मीद है.
  • जम्मू कश्मीर में लोगो के साथ हो रहे भेदभाव दूर हो जायेगा.

उम्मीद है की आपको जम्मू कश्मीर धारा 370 क्या है ( What Is Article 370 )के साथ साथ धारा 370 को कैसे हटाया जा सकता है की जानकारी भी मिली होगी यदि यह जानकारी आपको सही लगी तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर Share कर सकते है धन्यबाद..

No comments:

Post a Comment